Tag: Why

अर्ध-नारीश्वर पिज्जा!

आवश्यकता ही नहीं कई बार मजबूरी भी आविष्कार की जननी होती है और यहां प्रस्तुत अर्धनारीश्वर पिज्जा के पीछे भी ऐसी ही एक मजबूरी है. एक हिस्से में आप चीज को पिघलते देख रहे होंगे, जबकि दूसरे हिस्से में सूखे की मार पड़ी लगेगी. ऐसा इसलिए क्योंकि मुझे किसी ‘चीज’ से परहेज नहीं है. आप […]